Nationalist Bharat
Other

डॉक्टर्ड है मौलाना साद का सोशल मीडिया पर वायरल तथाकथित ऑडियो क्लिप

पुलिस जांच में पता चला है कि ‘शायद उस ऑडियो क्लिप से छेड़छाड़ हुई है और कई अन्य ऑडियो क्लिप को जोड़कर उसे तैयार किया गया है।’ फिलहाल पुलिस ने उस ऑडियो क्लिप समेत कई अन्य ऑडियो क्लिप को जांच के लिए फोरेंसिक साइंस लेबोरेट्री भेज दिया है।

नई दिल्ली :मरकज निजामुद्दीन के मुखिया मौलाना साद कंधालवी के जिस ऑडियो क्लिप की बुनियाद पर सोशल मीडिया के साथ साथ TV चैनलों ने हंगामा किया था कि जिसमें तब्लीगी जमात के लोगों को कथित तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने की सलाह दी गई थी,इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के अनुसार अब पुलिस जांच में पता चला है कि ‘शायद उस ऑडियो क्लिप से छेड़छाड़ हुई है और कई अन्य ऑडियो क्लिप को जोड़कर उसे तैयार किया गया है।’ फिलहाल पुलिस ने उस ऑडियो क्लिप समेत कई अन्य ऑडियो क्लिप को जांच के लिए फोरेंसिक साइंस लेबोरेट्री भेज दिया है।ख्याल रहे कि आलमी मरकज बंगलेवाली मस्जिद, जो कि तब्लीगी जमात का मुख्यालय भी है, उसके मुखिया मौलाना साद और उनके 6 अन्य सहयोगियों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है। आरोप है कि मार्च के अंत में निजामुद्दीन पश्चिमी इलाके में स्थित मस्जिद में प्रशासन की चेतावनी के बावजूद 2000 के करीब लोगों को इकट्ठा किया गया। जिसके बाद देश में कई जगह कोरोना संक्रमण फैलने में तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों का नाम सामने आया था।जिसे सोशल मीडिया के साथ TV चैनलों पर खूब प्रसारित किया गया।

Advertisement

Related posts

दिल्ली के संगम विहार में बहस के बाद 22 वर्षीय युवक को कुछ लोगों ने चाकू मार दिया

Nationalist Bharat Bureau

जहाज का ईंधन सस्ता है तो पेट्रोल-डीजल महंगा क्यों:नियाज़ अहमद

ए एन कॉलेज में युवा संवाद सह परिचर्चा कार्यक्रम का आयोजन

Leave a Comment