Nationalist Bharat
Other

भाजपा सांसद के इस्लाम विरोधी ट्वीट को हटाने के लिए सरकार ने ट्वीटर से किया अनुरोध

भारत सरकार ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर से 121 आपत्तिजनक ट्वीट हटाने के लिए कहा है। इनमें भाजपा के युवा सांसद तेजस्वी सूर्या का एक ट्वीट भी शामिल है।एक रिपोर्ट के अनुसार, आईटी मंत्रालय ने ट्वीट की वो लिस्ट और कंटेंट भेजा है, जिसे वह चाहता है कि ब्लॉक कर दिया जाए।

 

Advertisement

नई दिल्ली:अपने पुराने विवादित ट्वीट के ज़रिए अरब वर्ल्ड के निशाने पर आए भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या ने भाजपा के साथ साथ भाजपा सरकार को मुश्किल में डाल दिया है।सूर्या के पुराने ट्वीट की वजह से ही खाड़ी के देशों में एक उबाल सा गया था।इन सब से परेशान एनडीए सरकार ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर से बीजेपी सांसद तेजस्वी सूर्या के 2015 के आतंकवाद को इस्लाम से जोड़ने के ट्वीट को प्रभावी ढंग से हटाने के लिए कहा है।पीएम मोदी के पसंदीदा माने जाने वाले, बेंगलुरु के सांसद के निंदनीय ट्वीट्स ने भगवा पार्टी के लिए विश्व स्तर पर बहुत आग उगल दी।न्यूज़ 18 की की ख़बर के अनुसार सरकार नेे माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर से 121 आपत्तिजनक ट्वीट हटाने के लिए कहा है। इनमें भाजपा के युवा सांसद तेजस्वी सूर्या का एक ट्वीट भी शामिल है।बेंगलुरू से सांसद तेजस्वी ने 2015 में आतंकवाद को इस्लाम से जोड़ने वाला यह ट्वीट किया था। कर्नाटक के तेजस्वी सूर्या 2019 में लोकसभा चुनाव जीतने वाले सबसे कम उम्र के नेता थे।उन्होंने 2015 में विवादित ट्वीट किया था। सूर्या ने लिखा था, ‘संक्षेप में: यह सच है कि आतंक का कोई धर्म नहीं है। लेकिन आतंकवादी का निश्चित रूप से एक धर्म है और ज्यादातर मामलों में यह इस्लाम है। इलेक्ट्रॉनिक्स और इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (MEITY) से संबंधित मंत्रालय ने ट्विटर से इस ट्वीट को हटाने का अनुरोध किया है।तेजस्वी सूर्या को पार्टी के उभरते सितारों में गिना जाता है. वे युवाओं में खासकर लोकप्रिय हैं।टाइम्स नाऊ की एक रिपोर्ट के अनुसार, इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (आईटी) एक्ट की धारा 69 ए के तहत 28 अप्रैल को यह ट्वीट हटाने का अनुरोध किया गया था।सूर्या का ट्वीट 121 ट्वीट्स में से एक है, जिसे ट्विटर से हटाने के लिए कहा गया है। द वायर की एक रिपोर्ट के अनुसार, आईटी मंत्रालय ने ट्वीट की वो लिस्ट और कंटेंट भेजा है, जिसे वह चाहता है कि ब्लॉक कर दिया जाए।इनमें ज्यादातर ऐसे ट्वीट शामिल हैं जो कश्मीर पर सरकार के रुख की आलोचना करते हैं या कथित तौर पर पाकिस्तान समर्थक हैं।
यह पहली बार नहीं है जब सूर्या अपने विवादास्पद विचारों के चलते चर्चा में आए हैं। इससे पहले, सूर्या ने अपने एक ट्वीट में अरब महिलाओं का मजाक उड़ाया था।इस ट्वीट का महिला विरोधी बताकर विरोध हुआ था। सूर्या को उनकी रैलियों में और सोशल मीडिया में आक्रामक दक्षिणपंथी विचारों को सामने रखने के लिए भी जाना जाता है।सूर्या ने 2018 में ट्वीट किया था कि भाजपा पूरी तरह से हिंदुओं के लिए एक पार्टी होनी चाहिए। वे अक्सर हिंदू राष्ट्र की बात करते हैं।

Advertisement

Related posts

शिक्षा मंत्री से निजी विद्यालयो को खोलने एवं आरटीई की लंबित राशि के भुगतान की मांग

Nationalist Bharat Bureau

खडगे-प्रियंका ने आदित्य एल-1 की लॉन्चिंग के लिए दी वैज्ञानिकों को बधाई

Nationalist Bharat Bureau

1100 साल पुरानी नटराज मूर्ति को 25 साल पहले लंदन बेचा,अब चित्तौड़ आई:केंद्रीय मंत्री दिल्ली से लेकर आए

cradmin

Leave a Comment