Nationalist Bharat
Other

आप कार्यकर्ताओं ने रखा एक दिवसीय उपवास

पार्टी कार्यकर्ता एवं पदाधिकारियों ने अपने-अपने घरों में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए एक दिवसीय उपवास रखा।उन्होंने कहा, इस उपवास का उद्देश्य दूसरे राज्यों में फंसे बिहार के मजदूरों को सकुशल बिहार लाने व उन पर हो रहे शोषण और अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाना था।

पटना:आम आदमी पार्टी बिहार के प्रदेश अध्यक्ष के आह्वान पर बुधवार को राज्य भर में एक दिवसीय सांकेतिक उपवास का आयोजन किया गया। इस लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए किया गया। पार्टी कार्यकर्ता एवं पदाधिकारियों ने अपने-अपने घरों में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए एक दिवसीय उपवास रखा।उन्होंने कहा, इस उपवास का उद्देश्य दूसरे राज्यों में फंसे बिहार के मजदूरों को सकुशल बिहार लाने व उन पर हो रहे शोषण और अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाना था।पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुशील सिंह ने आरोप लगाया कि राज्य की नीतीश सरकार दिल्ली एवं देश के अन्य अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों, मजलूम कामगारों और असहायों लोगो को बिहार उनके अपने घर वापस नहीं बुला रही है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार घर वापसी के इच्छुक मजदूरों को 100 ट्रेनों से भेजना चाहती है लेकिन नीतीश सरकार इजाजत नहीं दे रही है।पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी बबलू प्रकाश, कुम्हरार विधानसभा क्षेत्र के अध्यक्ष सुयश कुमार ज्योति के घर पर पूरी टीम के साथ एक दिवसीय उपवास में बैठे।

Advertisement

बबलू ने कहा- मुख्यमंत्री जी, सूबे से बाहर फंसे मजदूरों को वापस नही बुलाना चाहते हैं। बिहार के मजदूर दूसरे प्रदेशों में फंसे हुए हैं। वहां पर वे भूखे प्यासे हैं। उनकी चिंता नीतीश जी को नहीं है. हालत ये है कि परेशान होकर हजारों गरीब और मजदूर पैदल सैकड़ों-हजारों किलोमीटर चल कर बिहार आ रहे हैं। उनके साथ दुर्घटना भी हो रही है, कई लोग मौत के आगोश में चले गए। इधर सूबे के मुखिया उनके वापसी को लेकर खामोशी अख्तियार किए हुए हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि मजदूरों के मामले में नीतीश सरकार गैरों पे करम कर रही है और अपनों पे सितम होते देख रही है। यह ठीक नही।आम आदमी पार्टी बिहार सरकार से मांग करते हुए कहा- कोटा से छात्रों को बुलाया जा सकता है, विदेशों में फंसे लोगों को बुलाया जा सकता है तो बिहार के बाहर फंसे मजदूरों-कामगारों को बिहार सरकार सम्मान पूर्वक अबिलंब बुलाए।एक दिवसीय उपवास कार्यक्रम में पार्टी के संगठन मंत्री राहुल सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज कुमार, प्रदेश सचिव श्रीवत्स पुरुषोत्तम, ई० उमाशंकर, प्रदेश प्रवक्ता चंद्र भूषण, नियाज अहमद, प्रदेश सह मीडिया प्रभारी मृणाल राज, जिला अध्यक्ष चौधरी ब्रह्म प्रकाश यादव, कला संस्कृति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष लोकेश सिंह, कोषध्यक्ष रीना श्रीवास्तव, कुम्हरार विधानसभा क्षेत्र के अध्यक्ष सुयश कुमार ज्योति , मो० चाँद, रज़िया सुल्ताना, बासुदेव महतो निसाद, शैल देवी, मो० सलीम, शौकत, सुधीर यादव सहित बिहार के हजारों कार्यकर्ता प्रवासी मजदूरों के मुद्दे पर राज्य स्तरीय एक दिवसीय उपवास किया।

Advertisement

Related posts

सलीम मर्चेंट को आई सिद्धू मूसेवाला की याद, कहा- दो हफ्ते में रिलीज होने वाला था हमारा गाना

Nationalist Bharat Bureau

कोरोना,आर्थिक मंदी और विदेशी साजिश…

विष्णु का वरदान: विष्णु को बेहद पसंद हैं ये 3 राशियां, जीवन में नहीं रहती चिंता

cradmin

Leave a Comment