Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

सड़क से सदन तक अपनी आवाज़ बुलंद करने के लिए जनतादल सेक्युलर को कामयाब बनाएं:डॉक्टर फ़ज़ल अहमद

कुम्हरार निर्वाचन क्षेत्र से जनतादल सेक्युलर के उम्मीदवार डॉ फजल अहमद ने भर पर्चा, कहा:केंद्र और राज्य सरकारों ने गरीबों, मेहनतकशों और देश के लोगों की उपेक्षा की है और देश में अस्थिरता का माहौल पैदा हुआ है।

 

Advertisement

पटना: जनता दल-सेक्युलर ने शुक्रवार को विधानसभा चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों की घोषणा की। लिस्ट के अनुसार पूर्व मंत्री हेमलता यादव के पुत्र मृत्युंजय यादव को सुपौल,ग्रीधर गोपाल को छपरा, डॉक्टर फ़ज़ल अहमद को कुम्हरार,अजित कुमार पासवान को राजगीर और सुधांशु कुमार को बिहार शरीफ से उम्मीदवार बनाया गया है।इसके साथ ही उम्मीदवारों ने नामांकन भी दाखिल कर दिया।जेडीएस के प्रांतीय अध्यक्ष हरधर कांत मिश्रा और वरिष्ठ उपाध्यक्ष ललित मोहन सिंह ने नामांकन दाखिल करने वाले की सफलता की कामना की। इस अवसर पर ललित मोहन सिंह ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव देश की राजनीति को एक नई राह दिखाएंगे। नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद अपने निर्वाचन क्षेत्र के समर्थकों को संबोधित करते हुए कुम्हरार निर्वाचन क्षेत्र से नामित डॉ फजल अहमद ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों ने गरीबों, मेहनतकशों और देश के लोगों की उपेक्षा की है और देश में अस्थिरता का माहौल पैदा हुआ है।क्राइम,भ्रष्टाचार बढ़ रहा है।जनता दल सेक्युलर ने इन समस्याओं से लोगों को बचाने और देश की अखंडता को बनाए रखने के लिए बिहार विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है और अगर आप लोगों का समर्थन मिलता है और सरकार में आने का मौका मिलता है, तो आपकी आवाज उठाई जाएगी।उन्होंने कहा कि बिहार की सरकार ने जिस तरह से लोगों कोकोरोना जैसी महामारी के दौरान भगवान भरोसे छोड़ दिया उससे लोग नाराज़ हैं। इसलिए, जनता दल सेक्युलर के उम्मीदवारों को सफल बनाएं और उन्हें सदन में लाएं ताकि सदन में आपकी आवाज पहुँच सके और आपको आपका हक मिल सके।

Advertisement

Related posts

लखीमपुर खीरी मामले पर यूथ काँग्रेस ने जलाया प्रधानमंत्री मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी का पुतला

लालू यादव का हालचाल जानने AIIMS पहुँचे राहुल गांधी,15 मिनट तक रहे

सूर्यवंशम में अमिताभ बच्चन का पोता बड़ा होकर दिखता है हैंडसम हंक, लेटेस्ट लुक देख कर पहचानना हुआ मुश्किल अमिताभ बच्चन स्टारर फिल्म सूर्यवंशम 1998 में आई थी.

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment