Nationalist Bharat
Other

ख़ुदाबख़्श खान

ख़ुदाबख़्श खान (1842-1908) का जन्म सिवान ज़िले के उर्खई गांव में हुआ था।उनके अब्बा जो एक नामी वकील थे,किताबों के बहुत शौकीन थे।ख़ुदा बख़्श को सैकड़ो किताबें वसीयत में मिली।1891 में उन्होंने पटना के “अशोक राजपथ”पर “ख़ुदा बख़्श लाइब्रेरी” की स्थापना की।आज इस शानदार लाइब्रेरी में लगभग 3 लाख किताबें हैं।ख़ुदा बख़्श खान हैदराबाद के चीफ जस्टिस भी रहे।
नोट:आपके प्रिय,लोकप्रिय और प्रसिद्ध हिंदी न्यूज़ पोर्टल “नेशनलिस्ट भारत” ने आपकी समाजी,शैक्षणिक, इतिहासिक और जन सरोकार से जुड़ी कला को डिजिटल दुनिया के माध्यम से दुनिया में पहुँचाने की शुरुआत की है।आज के इस कॉलम में पेश है पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ कुमार दास की”लिट्टी चोखा डॉट कॉम” शीर्षक से बनाई गई कृति।इस कॉलम के लिए आप अपनी कला का नमूना अपने संछिप्त जीवनी और विवरण के साथ हमें write2nbharat@gmail.com पर ईमेल कर सकते हैं या 9990891804 पर व्हाट्सएप कर सकते हैं।

Advertisement

Related posts

तेज़ हुआ पप्पू यादव की रिहाई का आंदोलन,पटना में जेल भरो अभियान

लोजपा प्रत्याशी गुड्डी देवी का जनसम्पर्क जारी

‘नोटबंदी गैरकानूनी’ : सुप्रीम कोर्ट की जज बी. वी. नागरत्ना ने फैसले पर जताई असहमति

Leave a Comment