Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

जब भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की पत्नी को मुस्लिम की वजह से अपना ट्वीट डिलीट करना पड़ा

नई दिल्ली:भारतीय जनता पार्टी के मध्य प्रदेश के अध्यक्ष बीडी शर्मा की पत्नी डॉक्टर स्तुति शर्मा को उस वक्त असहज स्थिति का सामना करना पड़ा जब उन्होंने रात के 12:00 बजे जबलपुर से एक ट्वीट किया। ट्वीट में उन्होंने लिखा की “मुझे रात को दवाई की जरूरत थी और सभी दुकानें बंद हो चुकी थी। रात 11:30 बजे एक मुस्लिम की मेडिकल दुकान खुली हुई थी। ड्राइवर और मैं उस दुकान पर पहुंचे और दवाई ली थी। उसने कहा दीदी इस वाली दवाई से नींद ज्यादा आती है कम ड्रॉप दीजिएगा। वह कितना केयरिंग था। वह मुस्लिम था।”
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष की पत्नी के इस एक ट्वीट ने पूरे भारतीय जनता पार्टी संघ परिवार बजरंग दल और उन जैसे तमाम हिंदू संगठनों को आग बबूला कर दिया। इन तमाम संगठन ने इस ट्वीट के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। तरह तरह की प्रतिक्रियाएं आने लगी।पार्टी समेत आम कार्यकर्ता ने अपनी प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी। कुल मिलाकर भगवा ब्रिगेड को भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश के अध्यक्ष की पत्नी स्तुति शर्मा का ट्वीट रास नहीं आया और उन्होंने अपनी अपनी भड़ास निकाल दी।ट्विटर पर तरह-तरह के रिएक्शन से परेशान डॉ श्रुति शर्मा ने मजबूरन वह ट्वीट डिलीट कर दिया। ट्वीट डिलीट करने के बाद डॉ श्रुति शर्मा ने लिखा के “पिछला ट्वीट अनावश्यक अराजकता फैला रहा था इसलिए डिलीट करना पड़ा।धर्म की लड़ाई के विषय पर विचार साझा करना मुश्किल है।मेरा मकसद किसी को ठेस पहुंचाने का नहीं था। बाकी सब कर्म पर छोड़ देते हैं।जय महाकाल।”
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष की पत्नी के इस ट्वीट विवाद पर कांग्रेस ने इसे राजनीतिक मुद्दा बना दिया कांग्रेस प्रवक्ता केके मिश्रा ने ट्वीट करते हुए लिखा”नफरत फैलाने की वैचारिक शिक्षा देने वाली छत के नीचे सत्य साईं स्वीकारने वह वैमनस्यता के खिलाफ शांतिदूत भी, भाभी जी आपके अदम्य साहस को सलाम। ट्वीट डिलीट करने की मजबूरी भी लाजमी थी किंतु एक दिन बीडी शर्मा भाई साहब भी समझेंगे।”

Advertisement

Related posts

BPSC Teacher Recruitment 2023: शिक्षा विभाग ने बीपीएससी को सौंपी 90,804 माध्यमिक शिक्षकों की नियुक्ति की अधियाचना,इसी माह आयोग से प्रकाशित होगा नियुक्ति का विज्ञापन

एक करोना जिसने दर्जनों मिथक धराशायी कर दिए

आप नेता सत्येंद्र जैन पर बेनामी संपत्ति का झूठा आरोप लगाने वाले शिकायतकर्ता पर लोकायुक्त ने लगाया 50 हजार का जुर्माना

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment