Nationalist Bharat
स्वास्थ्य

जानिए ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखने के लिए क्या खाएं

डायबिटीज में रोगी का ब्लड शुगर लेवल तेजी से बढ़ता है. मधुमेह के मरीजों को अपने खान-पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए. आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि डायबिटीज के रोगियों को किन चीजों का सेवन करना चाहिए और किन चीजों से परहेज करना चाहिए.

डायबिटीज यानी शुगर की रोग आजकल बहुत आम हो गई है. बच्चे से लेकर बूढ़े तक हर उम्र के लोग इस रोग की चपेट में आ रहे हैं. डायबिटीज में रोगी का ब्लड शुगर लेवल तेजी से बढ़ता है. मधुमेह के मरीजों को अपने खान-पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए. आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि डायबिटीज के रोगियों को किन चीजों का सेवन करना चाहिए और किन चीजों से परहेज करना चाहिए.

Advertisement

टाइप वन डायबिटीज

टाइप 1 मधुमेह किसी भी उम्र में हो सकता है. टाइप 1 मधुमेह बच्चों और युवाओं में सबसे आम प्रकार का मधुमेह है. यह एक और ऑटोइम्यून रोग है, जिसमें शरीर इंसुलिन का उत्पादन बंद कर देता है. टाइप 1 मधुमेह बच्चे में जन्म से ही उपस्थित हो सकता है.

Advertisement

टाइप टू डायबिटीज

टाइप 2 मधुमेह ज्यादातर वयस्कों में पाया जाता है. इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे मोटापा, उच्च रक्तचाप, खराब जीवनशैली और खान-पान. टाइप 2 मधुमेह में शरीर में इंसुलिन की मात्रा कम हो जाती है.

Advertisement

मधुमेह के मरीजों को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं?

मधुमेह के मरीजों को उच्च फाइबर विटामिन और खनिजों से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए. कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थ मधुमेह के मरीजों के लिए लाभकारी होते हैं. ये खाद्य पदार्थ पेट में तुरंत नहीं टूटते और इससे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है. वहीं, हाई कार्बोहाइड्रेट, प्रोसेस्ड, हाई स्टार्च और शुगर वाली चीजों से परहेज करें.

Advertisement

टाइप 2 डायबिटीज में इन चीजों को डाइट में करें शामिल

साबुत अनाज (क्विनोआ, ओट्स, ब्राउन राइस, आदि)
फलियां (बीन्स, दाल, चना, सोयाबीन),प्रोटीन युक्त चीजें (समुद्री भोजन, टोफू, कम वसा वाले रेड मीट आदि),
फल (सेब, संतरा, जामुन, खरबूजे, आड़ू)
सब्जियां (ब्रोकोली, फूलगोभी, पालक, खीरा आदि)
मेवे (बादाम, अखरोट, पिस्ता, काजू)
बीज (चिया बीज, कद्दू के बीज, सन बीज, भांग के बीज)
ब्लैक कॉफी, मामूली चाय, सब्जियों का रस

Advertisement

डायबिटीज के रोगी इन चीजों का सेवन ना करें
मिठाई (कैंडी, कुकीज़, मिठाई, पके हुए माल, आइसक्रीम)
मीठे पेय पदार्थ (रस, सोडा, मीठी चाय, खेल पेय), मिठास (टेबल चीनी, ब्राउन शुगर, शहद, मेपल सिरप)
प्रोसेस्ड फ़ूड (चिप्स, प्रोसेस्ड मीट, माइक्रोवेव किया हुआ पॉपकॉर्न)

उच्च वसा वाला मांस
पूर्ण वसा वाले डेयरी उत्पाद (वसा दूध, मक्खन, पनीर)
ट्रांस वसा (तला हुआ भोजन, डेयरी मुक्त कॉफी क्रीमर, आदि)

Advertisement

Related posts

कोरोना संक्रमित पाया गया अर्जेंटीना का पर्यटक आगरा से लापता, प्रशासन और पुलिस ढूंढ़ने में लगी

Nationalist Bharat Bureau

ब्रेन ईटिंग अमीबा: क्या आप ब्रेन ईटिंग अमीबा के बारे में जानते हैं? देखिए कितनी अजीब है ये बीमारी

Nationalist Bharat Bureau

खाली पेट खाएं तुलसी के पत्ते : मिलेंगे ये अद्भुत फायदे

Leave a Comment