Nationalist Bharat
स्वास्थ्य

बारिश के मौसम में बच्चो को बीमारी का खतरा , लषण और बचाव के तरीके

मोनसून ने लगभग पुरे देश में दस्तक दे ही दी हे अगले कुछ महीनो तक ये सिलसिला जारी रहेगा ये अपने साथ सिर्फ हरियाली ही नहीं बीमारी भी लाता है खासतौर से बच्चो को इससे बचाना मुश्किल सा हो जाता है। बच्चे का बीमार पड़ना मतलब माँ पापा की परेशानी बढ़ जाना।

 

Advertisement

बारिश के मौसम में बच्चो को होने वाली बीमारी :
इस मौसम में बच्चो को सर्दी ,खांसी , डायरिया और स्किन की बीमारी होने का ज्यादा खतरा है।  इसके अलावा  सिरदर्द ,बुखार ,कब्ज़ ,और भूख न लगने जैसे लक्षण बच्चे में दिखाई देते है। अगर बच्चो में ये लक्षण दिखाई दे तो उन्हें तुरंत डॉक्टर का संपर्क करना चाहिए। बारिश में मच्छर और मखिया बढ़ जाती हे जिससे वायरल , पीलिया , टाईफोर्ड , चिकनगुनिया , डेंगू , मलेरिया के मामले ज्यादा आते है।

 

Advertisement


कैसे बचाये :

अपने घर के आसपास गन्दा पानी इकठा न होने दे।
बच्चो को बाहर का खाना न खिलाये।
बच्चो को पूरी बाज़ू के कपडे पहनाय जिससे मच्छर न काट सके.

गीले कपडे तुरंत उतारे उन्हें ज्यादा पानी में न भीगने दे.

Advertisement

Related posts

सुखी एवं खुशहाल जीवन का रहस्य स्वास्थ के प्रति चेतन रहना है:आनन्द माधव

अगर आप सुबह उठते ही कॉफी पीना चाहते हैं तो सावधान हो जाएं, यह सेहत से जुड़ी गंभीर समस्या हो सकती है

Nationalist Bharat Bureau

कोरोना के खतरे के बीच यूपी के अस्पतालों में टीके ख़तम, बूस्टर डोज़ के लिए बढ़ रही है भीड़

Leave a Comment