Nationalist Bharat
विविध

जब दुबई की बुनियाद रखने वाले शेख राशिद बिन अल मकतूम से उनके मुल्क के मुस्तकबिल के बारे में पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया कि मेरे दादा ऊंट की सवारी करते थे, मेरे वालिद भी ऊंट की सवारी करते थे, मैं मर्सिडीज की सवारी करता हूं, मेरा बेटा लैंड रोवर की सवारी करता है।…..और मेरा पोता लैंड रोवर की सवारी करने जा रहा है लेकिन मेरे परपोते को फिर से ऊंट की सवारी करनी होगी।उसने पूछा क्यों? उनका जवाब था, “मुश्किल वक्त मजबूत आदमी पैदा करता है, मजबूत आदमी आसान वक्त पैदा करता है। आसान वक्त कमजोर आदमी पैदा करता है और कमजोर आदमी मुश्किल वक्त पैदा करता है।”ज्यादातर लोग यह नहीं समझेंगे, लेकिन आपको बहादुर बनना होगा, न कि आरामतलब। हमने मुश्किलें देखी हैं और बच्चों के लिए चीजें आसान की हैं। हमारे बच्चों ने आसानी देखी है और वे परेशानिया पैदा कर रहे हैं।कुदरत ने इंसान को इस दुनिया में मजे के लिए नहीं मेहनत के लिए बनाया है।

 

Advertisement

 

निष्कर्ष
मेहनत इंसान को ताकतवर बनाती है और आराम इंसान को बीमार बनाता है। वह काम न करें जिसमें मेहनत की जरूरत न हो बल्कि मुश्किल काम करे !!

Advertisement

Related posts

पति मनुष्य से मिलता-जुलता एक प्राणी है !

पोस्टमॉस्टर साहब ड्यूटी के दौरान नशे में टुन्न, पोस्टऑफिस बना मधुशाला

Nationalist Bharat Bureau

चंद्रयान 3 की लैंडिंग के बाद चांद को लिखी गई चिट्ठी वायरल

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment