Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

Maharashtra Political Crisis:शिंदे ने ठोका शिवसेना पर दावा,12 शिवसेना सांसद लेकर पहुंचे लोकसभा स्पीकर के सामने, चुनाव आयोग जाने की तैयारी

मुम्बई:महाराष्ट्र में राजनीतिक संकट पर  देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से पहले महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने एक नया दांव चल दिया है। खबरों के अनुसार शिंदे ने शिवसेना पर दावत ठोकते हुए शिवसेना के 12 सांसदों की लोकसभा स्पीकर के सामने परेड करा दी है। हिंदी ने दावा किया है कि शिवसेना के 19 में से अट्ठारह सांसद का उनको समर्थन प्राप्त है। दूसरी तरफ मुंबई में शिवसेना के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सांसदों की मीटिंग बुलाई है। इस मीटिंग में शिवसेना के वरिष्ठ पदाधिकारियों को बुलाया गया है। मीटिंग में महानगर पालिका अध्यक्ष को भी शामिल होने का निर्देश दिया गया बताते चलें कि विभागों की बारात के बाद पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने 29 जून को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। इस बीच खबर है कि शिवसेना के 12 सांसदों को केंद्र सरकार की ओर से वाई प्लस की सुरक्षा दी गई है सूत्रों के अनुसार शिवसेना के 19 में से 12 सांसद अलग गुट का दावा लोकसभा में पेश कर सकते हैं। सूत्रों के अनुसार इन 12 सांसदों ने मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी मोदी से भी मुलाकात कर सकते हैं।

सबकी नजर सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई पर

Advertisement

महाराष्ट्र संकट को लेकर अब सबकी नजर 20 जुलाई को होने वाली सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई पर है। चीफ जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस कृष्ण मुरारी और हेमा कोहली की बेंच उद्धव ठाकरे की अगुआई वाले खेमे और एकनाथ शिंदे खेमे की याचिकाओं पर सुनवाई करेगी। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही शिवसेना की लड़ाई में नया मोड़ आएगा।

शिवसेना पर दावे के पीछे शिंदे पक्ष की दलील क्या है?
शिवसेना के 40 विधायक और 13 सांसद मूल पार्टी (उद्धव की शिवसेना) से अलग हो गए हैं। बागी गुट के नेता और मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने सांसदों और विधायकों की संख्या के आधार पर दावा किया है कि उनके पास दो तिहाई जनप्रतिनिधि हैं, इसलिए असली शिवसेना अब उनकी वाली है।

Advertisement

 महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के लिए मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. पहले हाथ से सत्ता निकल गई वहीं अब पार्टी को बचाने की जद्दोजहद जारी है. जिसमें हर रोज नया मोड़ आ जाता है. अब खबर है कि एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) गुट ने शिवसेना की नई राष्ट्रीय कार्यकारिणी (Shiv Sena National Executive) की घोषणा की है. एकनाथ शिंदे गुट ने पुरानी राष्ट्रीय कार्यकारिणी को बर्खास्त कर दिया है. शिवसेना के मुख्य नेता के तौर पर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को चुना गया है. शिवसेना पक्ष प्रमुख पद को फिलहाल हाथ नहीं लगाया गया है. विधायक दीपक केसरकर की प्रवक्ता के तौर पर नियुक्ति की गई है. शिवसेना नेता के तौर पर रामदास कदम और आनंदराओ अडसूल को नियुक्त किया गया. शिवसेना के उप नेता के तौर पर यशवंत यादव गुलाबराव पाटिल, उदय सामंत, शरद पोंक्षे, तानाजी सावंत, विनय नाहटा, शिवाजीराव पाटिल को चुना गया है.

Advertisement

Related posts

जम्मू-कश्मीर को फिर से राज्य बना दिया जाएगा, 31 अगस्त को विस्तृत बयान देगी केंद्र सरकार

Nationalist Bharat Bureau

बिहार में प्रदूषण नियंत्रण के मुद्दे पर आप नेताओं ने बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद को सौंपा ज्ञापन

Nationalist Bharat Bureau

कांग्रेस ने बिहार के सभी जिला अध्यक्षों के नामों की घोषणा की

Leave a Comment