Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

अब इन अभिनेताओं की आयी शामत, फ़िल्म के बहिष्कार की अपील

पटना:केंद्र की मोदी सरकार के आने से पहले महंगाई बेरोजगारी डीजल पेट्रोल की बढ़ती कीमतों और डॉलर के मुकाबले भारत के रुपए की गिरती कीमतों पर अपनी बेबाक राय रखने वाले नेता अभिनेता पर इन दिनों शामत आई हुई है । इन नेताओं और अभिनेताओं के 2014 के पहले के बयानात और ट्वीट आजकल सोशल मीडिया पर खूब शेयर किए जा रहे हैं । इनके ट्वीट को शेयर करके इन अभिनेताओं को आईना भी दिखाया जा रहा है । आम लोगों के साथ-साथ अब राजनीतिक दलों ने भी अभिनेताओं के दोहरे चरित्र पर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं। ताजा मामले में डॉलर के मुकाबले भारत के रुपए की गिरती कीमतों को लेकर अभिनेताओं के 2014 के पहले के किए गए ट्वीट का स्क्रीनशॉट साझा करते हुए राष्ट्रीय जनता दल ने कड़ा प्रहार किया है ।राजद ने अभिनेताओं के ट्वीट के स्क्रीन शॉट शेयर करते हुए इनकी फिल्मो का बायकॉट करने की अपील की है।इस लिस्ट में अभिनेता विवेक अग्निहोत्री, अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी, अभिनेता आमिताभ बच्चन,अनुपम खेर, अभिनेत्री जूही चावला वगैरह का नाम शामिल है।

 

Advertisement

राजद ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट पर कई अभिनेताओं के पूर्व में किए गए ट्वीट का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा है कि इन अभिनेताओं और अभिनेत्रियों की फ़िल्मों का बहिष्कार करें। जब इन्हें बोलने की आजादी थी, CBI, IT और ED का डर नहीं था तब ये महंगाई, बेरोजगारी, अर्थव्यवस्था समेत हर मामले के विशेषज्ञ होते थे।लेकिन अब इनके मुँह में दही जम गया है,शायद ये नहीं जानते कि मुँह में जमे दही पर GST नहीं है।

 

Advertisement

दरअसल, सोशल मीडिया पर अनुपम खेर, विवेक अग्निहोत्री, शिल्पा शेट्टी, जूही चावला जैसे सितारों के कुछ पुराने ट्वीट वायरल हो रहे हैं, जो साल 2012-2013 के समय के हैं। जब यूपीए (कांग्रेस और सहयोगी दल) की सरकार थी। इन ट्वीट्स में बॉलीवुड के तमाम सेलेब्स डॉलर के मुकाबले रुपये की गिरती कीमत की वजह से सरकार को घेरने का काम कर रहे हैं। उन दिनों अनुपम खेर ने एक ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘सबकुछ गिर रहा है। रुपये की कीमत और इंसान की कीमत। हम उस देश के वासी हैं, जिस देश में गंगा रोती है।’ इनके अलावा, अमिताभ बच्चन ने अपने ट्वीट में लिखा था, अंग्रेजी डिक्शनरी में एक नया शब्द जुड़ गया है- रुपीड। यह एक वर्ब है जिसका अर्थ है, नीचे गिर जाना।

Advertisement

Related posts

कोरोना वायरस एक मानव निर्मित वायरस था,अमेरिकी शोधकर्ता का दावा

Nationalist Bharat Bureau

राबिया सैफी को इंसाफ दिलाने के लिए पटना की सड़कों पर उतरीं ऐपवा और दूसरी महिला संगठन की कार्यकर्ता

Nationalist Bharat Bureau

GST मामले पर अपनी ही सरकार पर बरसे वरुण गांधी,लोगों ने भी मोदी सरकार की लगाई क्लास

Leave a Comment