Nationalist Bharat
विविध

एक झटके में सब कुछ प्राइवेट हो जाये वो ज्यादा अच्छा है

एक झटके में सब कुछ प्राइवेट हो जाये वो ज्यादा अच्छा है, किस्तों में काटना या हलाल करना बेहद तकलीफदेह है और क्रूर भी है |लोगो को साफ पता हो जाना चाहिए कि बैंक में FD पर 0.1 – 1 % इंटरेस्ट मिलेगा , सेविंग में रखोगे तो रखने का पैसा देना पड़ेगा | बीमा औकात में होगा तो करा लेना , उसमे tax फैक्स की छूट की नौटँकी नही होगी |

घर से बाहर सड़क पर निकलोगे तो गेट पर ही मशीन होगी जिसमें कार्ड स्वैप करके सड़क use कर सकते हो | हरेभरे रास्तों पर चलने की फीस dynamic होगी क्योंकि वहां ऑक्सीजन ज्यादा मिलेगा |

Advertisement

दस रकम के हस्पताल , स्कूल , कालेज , यूनिवर्सिटी होगी , जितना फूंकोगे उसके हिसाब से इलाज और पढ़ाई होगी | जितना आज हवाई यात्रा में खर्च करते हो उतने में ट्रेन की यात्रा होगी और सब dynamic fare होगा , हवाई यात्रा उसी अनुपात में बढ़ जाएगी |

 

Advertisement

नौकरी में कोई सुरक्षा नही होगी , टिन्न पिन्न किये तो फौरन बाहर , टारगेट पूरा करते रहो और अपने भविष्य के लिए खुद सोचो | छूट्टी एहसान होगी , जो डबल ड्यूटी से पूरा करना करना , वरना घर बैठो | लोग बाहर काम के लिए मरे जा रहे है |सब सामान online मिलेगा , दवा और दारू , boy , गर्ल , फ्रेंड् बीवी , सब कुछ , कभी सर्वर क्रैश हुआ तो उतने दिन जिओ या मरो |

चुनाव होगा , टैक्स भे लिया जाएगा ताकि सेना और पुलिस का खर्चा निकाला जा सके | इनके अलावा सब कुछ निजी हो जाएगा | जेल से लेकर tax कलेक्शन तक | सरकारी दफ्तरों और उनके बाबुओं से निजात मिल जाएगी | घुस से छोटा मोटा काम नही होगा , उस सेवा का दाम ही घुस का 4 गुना हो जाएगा | नोट कमाओ तो सब मिलेगा | जो कमाएंगे वो सर्वाइव करेंगे | बच्चे क्रेच में और बुड्ढे ओल्ड एज होम में पलेंगे | हेल्थ बीमे वाले इलाज कराएंगे बाकी immunity बढ़ावे या मर जाये , पैसा भी नही है और रोग से लड़ भी नही सकते तो देश पर बोझ क्यो बने हो भाई , स्वर्ग का रास्ता खुला है , ट्रैफिक भी क्लीयर है , निकल लो , देर मत करो | तो भाई , जल्दी से सब कुछ प्राइवेट करो , toll फ्री नम्बरों पर ऐसी कोकिल कंठियो को बैठाओ जो झूठा आश्वासन भी दे तो दिल मे हुक उठने लगे और हम अपना दुख भूल जाये …

Advertisement

ये पे पे पे , टें टें , और मितरों पितरों सुनते सुनते एलर्जी होने लगी है …अब तो 108080890 890 पर फोन करें और उधर से शहद में डूबी आवाज़ आये ,जी क्या सेवा कर सकती हूं मैं आपकी ।मुझे दिल का दौरा पड़ा है ।जी तेज़ पड़ा हो तो एक दबाए , माइल्ड हो तो दो , और कुछ समझ मे नही आ रहा हो तो तीन दबाएं ।आपने दो दबाया है , तो सीने को हल्के हल्के सहलाएं , यदि न सहला सकते हो , तो हम आपको फोन पर बोल कर सहलाने का यानी audio फील दे सकते है , इसके लिए एक दबाए और video फील के लिए दो दबाएं …आपने दो दबाया , प्लीज़ होल्ड ….अरे मिस्टर मुंगेरी लाल , मैं सपना स्वप्नदर्शी आपकी ऑनलाइन लाइन थेरेपिस्ट हाजिर हूँ …. अरे ! क्या हुआ सर , अरे , लगता है , अब आप हमारी निजी दुनिया छोड़कर भगवान की बनाई दुनिया मे चले गए ….. happy journey sir … Take care |

Advertisement

Related posts

Free में मिल सकता है VIP नंबर, ये टेलीकॉम कंपनी दे रही है Free में VIP नंबर, ये है तरीका

बॉलीवुड अदाकारों को ट्रैफिक कानून की परवाह नहीं!यकीन न हो तो…

Nationalist Bharat Bureau

संस्कृति, परम्परा, लोक कला, शिल्प, और देशी व्यंजन का दौर पुनर्जीवित कर रहा बिहार सरस मेला

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment