Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

पटना जंक्शन गोलंबर से पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की प्रतिमा गायब!काँग्रेस ने लगाया साज़िश का आरोप

पटना :राजधानी पटना के सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन पटना जंक्शन गोलम्बर में वर्षों पूर्व से स्थापित भारत के प्रथम प्रधानमंत्री भारतरत्न पंडित जवाहरलाल नेहरू की प्रतीमा को गुप चुप ढ़ंग से वहां से हटाने का मामला प्रकाश में आया है।ये आरोप काँग्रेस के एक प्रतिनिधि मंडल ने उक्त जगह का दौरा करने के बाद लगाया है।पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की प्रतिमा को किसने,कब और क्यों हटाया ये तो अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है न ही पता चल पाया है प्रतिमा किसने और किसके आर्डर से हटाया है या ये काम किसी गैर सामाजिक तत्वों ने किया लेकिन इस घटना की भनक मिलते ही बिहार काँग्रेस सक्रिय हो गयी है।प्राप्त सूचना के अनुसार पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की प्रतिमा को हटाये जाने की खबर मिलते ही काँग्रेस के एक प्रतिनिधि मंडल ने उक्त जगह का जायज़ा लिया और प्रतिमा हटने की पुष्टि करते हुए इसे न सिर्फ आपत्तिजनक और निंदनीय बताया बल्कि अब इस कृत्य के ख़िलाफ़ आवाज़ बुलंद करने का भी निर्णय लिया गया है।
सोशल मीडिया के द्वारा इस सिलसिले में आवाज़ भी उठनी शुरू हो गयी है।प्राप्त जानकारी के अनुसार कॉंग्रेस के जमालपुर के विधायक अजय कुमार सिंह,कांग्रेस के वरिष्ट नेता आज़मी बारी,सिद्धार्थ छत्रिय,अरशद अब्बास आज़ाद समेत कई नेताओं के प्रतिनिधि मंडल ने पटना जंक्शन स्थित जगह का जायज़ा लिया और वहां पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की वर्षों से लगी प्रतिमा न पाकर क्षोभ व्यक्त किया है।

विचार विमर्श करते हुए काँग्रेस नेतागण

काँग्रेस नेताओं का कहना है कि वहां से सिर्फ पंडित जवाहरलाल नेहरू की प्रतिमा को हटाया गया है जबकि उसी गोलम्बर स्थल में अन्य कई प्रतीमायें पूर्व की तरह स्थापित हैं।पंडित जवाहरलाल नेहरू की प्रतिमा क्यों हटाई गई ये चिंतनीय है।

Advertisement
प्रतिमा की जगह काँग्रेस नेता

काँग्रेस नेता अरशद अब्बास आज़ाद ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट के द्वारा बताया कि उक्त विषय पर बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास,बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा से इस विषय पर फ़ोन से हुई बात में उन्हें हालात और स्थिति से अवगत करा दिया गया है साथ ही प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष सह एमएलसी डॉ समीर कुमार सिंह और कांग्रेस के वरीष्ट नेता सह एमएलसी प्रेमचन्द मिश्रा के साथ इस सिलसिले में एक मीटिंग भी हुई है जिसमें आगे की रणनीति पर विचार विमर्श किया गया है।उन्होंने कहा कि काँग्रेस पार्टी पंडित जवाहरलाल नेहरू की प्रतिमा को हटाए जाने के कारणों और उसके पीछे की साज़िश और साज़िशकर्ता को बेनक़ाब करने के लिए उचित कदम उठाएगी।

Advertisement

Related posts

तेजप्रताप का मोदी पर तंज,दोगली सीरत से कैसे अपनी सूरत मिलाते हो।

BJP से निलंबित होते ही बदले नूपुर शर्मा के सुर,कहा-‘मैं अपने शब्द वापस लेती हूं…’

बिहार गौरव गान एवं लोक गायन के साथ तीन दिवसीय सीतामढ़ी महोत्सव का शुभारंभ

Leave a Comment