Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

Twitter lays off: एलन मस्क ने भारत में ट्विटर की पूरी टीम को निकाला

नई दिल्ली:माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर के मालिक के बदलने के बाद ही यह चर्चा थी कि ट्विटर में बहुत कुछ बदलाव देखने को मिलेंगे। इसकी बानगी उस वक्त देखने को मिली जब ट्विटर के मालिक एलन मस्क ने ट्विटर के सीईओ भारतीय मूल के पराग अग्रवाल को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था। एलन मस्क के ट्विटर का मालिक बनने के बाद ट्विटर ने अपने ब्लू टिक अकाउंट धारियों को मासिक $8 चार्ज लगाने का ऐलान किया था। अब बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है वह यह कि एलन मस्क ने कंपनी से छटनी भी शुरू कर दी है। यह छटनी भारत से शुरू हुई है जहां उसने अपने तमाम 250 कर्मचारियों को एक मेल के माध्यम से सूचित करते हुए कंपनी से निकाल दिया है। भारत में पूरी की पूरी टीम को ट्विटर से बाहर कर दिया गया है।

ट्विटर (Twitter) के नए मालिक एलन मस्क (Elon Musk) ने भारत में कंपनी के लगभग सभी कर्मचारियों को निकाल दिया है। सूत्रों के मुताबिक भारत में कंपनी के करीब 250 कर्मचारी थे। कंपनी ने कर्मचारियों को एक मेल भेजकर कहा था कि शुक्रवार को छंटनी की जाएगी। इसके मुताबिक भारत में कर्मचारियों की छंटनी शुरू कर दी गई है। एलन मस्क ने हाल ही में ट्विटर को खरीदा है। ट्विटर का मालिक बनते ही मस्क ने सबसे पहले मस्क ने कंपनी के भारतीय मूल के सीईओ पराग अग्रवाल (Parag Agrawal) सहित चार बड़े अधिकारियों की छुट्टी कर दी थी। इसके बाद माना जा रहा था कि ट्विटर में बड़े पैमाने पर छंटनी की जाएगी। ट्विटर की तरफ से कर्मचारियों को भेजे गए मेल में कहा गया था कि ट्विटर को एक हेल्दी रास्ते पर ले जाने के लिए हम शुक्रवार को ग्लोबल वर्कफोर्स को कम करने की कठिन प्रक्रिया से गुजरेंगे।

Advertisement

मिंट ने सूत्रों के हवाले से बताया कि भारत में करीब-करीब पूरा स्टाफ हटा दिया गया है। पूरी क्यूरेशन टीम की छुट्टी कर दी गई है। यह टीम ट्विटर मोमेंट्स फीचर के लिए कंटेंट तैयार करती थी। साथ ही कम्युनिकेशंस, ग्लोबल कंटेंट पार्टनरशिप्स, सेल्स और एड रेवेन्यू, इंजीनियरिंग और प्रॉडक्ट टीमों पर भी गाज गिरी है। एक सूत्र ने कहा कि इन टीमों में पूरे या 50 फीसदी कर्मचारियों को निकाला गया है। ट्विटर से निकाले गए एक कर्मचारी ने कहा कि कॉन्ट्रैक्ट पर रखे गए कुछ कर्मचारियों को रिटेन रखा गया है। ये लोग कंपनी के फुल टाइम रोल पर नहीं थे। कंपनी की पब्लिक पॉलिसी टीम में रहे यश अग्रवाल ने ट्वीट किया, ‘अभी-अभी मुझे निकाल दिया गया है। मुझे इस टीम और इस कल्चर का हिस्सा बनने पर गर्व है। इस टीम और इस ऑर्गेनाइजेशन का हिस्सा बनना सम्मान की बात है।’ यह ट्विटर में फर्स्ट राउंड की छंटनी है। दिसंबर 2021 में पूरी दुनिया में ट्विटर के 7,500 कर्मचारी थे।

आजतक की खबरों के अनुसार छंटनी के बारे में आजतक को ट्विटर इंडिया के सूत्रों की तरफ से बताया गया है कि कंपनी ने मार्केटिंग, पार्टनर रिलेशन, सेल्स और कंटेंट क्यूरेशन और एडिटोरियल जैसे वर्टिकल में पूरी टीमों को निकाल दिया है. जिन लोगों की छंटनी की गई है, वे अब इस खबर को सार्वजनिक कर रहे हैं. ट्विटर और लिंक्डइन दोनों वर्तमान में ट्विटर कर्मचारियों की खबरों से भरे हुए हैं. अब पूर्व कर्मचारी अपनी नौकरी के नुकसान के बारे में बात कर रहे हैं.

Advertisement

 

बता दें कि ट्विटर का 3.64 लाख करोड़ में अधिग्रहण करने के बाद एलन मस्क लगातार बड़े फैसले ले रहे हैं. उन्होंने सबसे पहले सीईओ पराग अग्रवाल और पॉलिसी चीफ और सीनियर वकील विजया गड्डे समेत शीर्ष अधिकारियों को निकाल दिया था, तब से ट्विटर पर बड़े पैमाने पर छंटनी की अफवाहें चल रही थीं, जिसमें कहा जा रहा था कि कंपनी के 25 प्रतिशत से 75 प्रतिशत कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है.

Advertisement

Related posts

कंगना का ठाकरे पर कटाक्ष: अब शिवजी भी नहीं बचाएंगे शिवसेना को

मुख्यमंत्री के नेतृत्व में बिहार बना देश की प्रतिभा का पावर हाउस :सेतु

Nationalist Bharat Bureau

संसद भवन पर सियासत:मोदी की बजाए राष्ट्रपति मुर्मू करें संसद भवन का उद्घाटन:राहुल

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment