Nationalist Bharat
Other

ब्रेकअप’ या पढ़ाई का दबाव ? कोटा के अनिकेत का सुसाइट नोट क्या कह रहा …

Rajasthan Kota Student News: उत्तर प्रदेश के बरेली निवासी अनिकेत कुमार के आत्महत्या मामले में पुलिस को एक सुसाइ़ड नोट मिला है। 18 वर्षीय अनिकेत को लेकर पुलिस ने जानकारी दी है कि उसने अपनी प्रेमिका के साथ संबंध विच्छेद और पढ़ाई के बढ़ते दबाव के चलते यह कदम उठाया है।

राजस्थान के कोटा में ‘नीट’ की तैयारी करने वाले 18 वर्षीय छात्र ने फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली। उसने अपनी प्रेमिका के साथ संबंध विच्छेद और पढ़ाई के बढ़ते दबाव के चलते यह कदम उठाया। पुलिस ने इस संबंध में यह जानकारी दी है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार उत्तर प्रदेश के बरेली निवासी अनिकेत कुमार शुक्रवार को जवाहर नगर थाना क्षेत्र के इंदिरा विहार इलाके में छात्रवास के अपने कमरे में पंखे से लटका मिला। अधिकारियों बताया कि अनिकेत ने 12वीं पास की थी और वह पिछले तीन साल से राष्ट्रीय योग्यता सह प्रवेश परीक्षा-स्नातक (नीट-यूजी) की तैयारी कर रहा था। छात्र के कमरे से एक ‘नोट’ बरामद हुआ, जिसमें अनिकेत कुमार ने लिखा था कि पढ़ाई और ‘ब्रेकअप’ के कारण वह तनाव में था।
सुसाइड नोट में लिखा- परिवार के प्रत्येक सदस्य से करता हूं प्यार
अनिकेत कुमार ने अपने नोट में लिखा कि वह परेशान था क्योंकि एक लड़की ने उसकी भावनाओं के साथ खेला था और पढ़ाई के चलते मानसिक दबाव और बढ़ गया था। इससे वह दबाव का सामना करने में असमर्थ हो गया। उसने ‘नोट’ में यह भी लिखा कि वह अपने माता-पिता, दो बहनों और भाई सहित अपने परिवार के प्रत्येक सदस्य से प्यार करता है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि छात्र का शव पोस्टमॉर्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। उन्होंने कहा कि दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 174 के तहत अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज किया गया।
ईस महीने की शुरुआत में तीन छात्रों ने आत्महत्या कर ली। इससे कोटा में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए आने वाले छात्रों पर पढ़ाई के दबाव को लेकर बहस शुरू हो गई थी। इस साल के अंत से पहले कोटा में 15 स्टूडेंट्स आत्महत्या कर चुके हैं। ऐसे में कोटा अपने बच्चों को भेजने वाले देशभर के पैरेंट्स की इस मुद्दे पर चिंता बढ़ गई हहै।
Advertisement

Related posts

जहाज का ईंधन सस्ता है तो पेट्रोल-डीजल महंगा क्यों:नियाज़ अहमद

आईसीसी टेस्ट रैंकिंग : लाबुशेन शीर्ष पर, विराट कोहली सातवें नंबर पर खिसके

Nationalist Bharat Bureau

EC APPOINMENT: SC ने सरकार से पूछा- ‘बिजली की स्पीड’ जैसी क्यों चली अरुण गोयल की नियुक्ति की फाइल?

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment