Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

4 जनवरी से ‘समाधान यात्रा’ पर निकलेंगे नीतीश कुमार,2024 चुनाव से पहले भापेंगे जनता का मूड

पटना:समय समय पर बिहार की यात्रा करके ज़मीनी सच्चाई से अवगत होने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जाने जाते हैं।ऐसे में एक बार फिर नए साल की शुरुआत में ही नीतीश कुमार राजनीतिक गहमागहमी के बीच बिहार की यात्रा पर निकलने वाले हैं. हर बार उनकी यात्रा किसी ना किसी थीम पर होती है और यात्रा का कोई ना कोई नाम दिया जाता है. इस बार उनकी यात्रा का नाम समाधान यात्रा है और यात्रा का मकसद है सरकार की तरफ से चलाए जा रहे विकास कार्यों की जमीनी हकीकत का जायजा लेना और जो कमियां है उसे ऑन स्पॉट समाधान करना।
इस सिलसिले में अपर मुख्य सचिव डॉक्टर एस सिद्धार्थ के द्वारा जारी निर्देश में कहा गया है कि ‘समाधान यात्रा’ की समीक्षात्मक बैठक में संबंधित जिले के प्रभारी मंत्री एवं जिले के निवासी मंत्री उपस्थित रहेंगे। जिला पदाधिकारी द्वारा इन महानुभावों से समीक्षा बैठक में उपस्थित रहने हेतु अनुरोध किया जाय। इसके अतिरिक्त समीक्षात्मक बैठक में मुख्य सचिव एवं पुलिस महानिदेशक तथा निर्धारित विषयों से संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव / प्रधान सचिव / सचिव बैठक में उपस्थित रहेंगे, जिसकी सूचना उन्हें ससमय उपलब्ध करा दी जायेगी, जबकि संबंधित विभागों के मंत्रीगण तथा अन्य पदाधिकारीगण इन समीक्षात्मक बैठकों में वी०सी० के माध्यम से जुड़ेंगे। अन्य विभागों के अपर मुख्य सचिव / प्रधान सचिव / सचिव भी उक्त कार्यक्रम में वी०सी० के माध्यम से भाग लेंगे। इन समीक्षात्मक बैठकों में स्थानीय सांसद, स्थानीय विधायक, स्थानीय पार्षद स्वेच्छा से भाग ले सकेंगे, परंतु समीक्षा के बिन्दु निर्धारित विषय-वस्तु के अंतर्गत ही होंगे।पत्र में कहा गया है कि संबंधित जिला के जिला पदाधिकारी इस कार्यक्रम की सुरक्षा तथा अन्य सभी आवश्यक व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करेंगे।समाधान यात्रा के दौरान निर्धारित किये गये विषयों / आयोजनों एवं समीक्षा बैठकों में सभी संबंधित पदाधिकारीगण पूर्ण तैयारी के साथ ससमय उपस्थित रहने का आदेश जारी किया गया है।

समाधान यात्रा का शेड्यूल

ऐसे में राजनीतिक पंडितों का मानना है कि अगले साल लोकसभा का चुनाव है और उसके पहले जनता की समस्या का समाधान कर उनकी नाराजगी दूर करने के साथ साथ जनता के मूड को भी भापने की कोशिश नीतीश कुमार करेंगे. यात्रा की शुरुआत नीतीश कुमार चार जनवरी से करेंगे और यात्रा के दौरान योजना से संबंधित इलाक़े का भ्रमण करेंगे।वो चिन्हित समूहों के साथ बैठक करेंगे साथ ही जिला स्तरीय समीक्षा बैठक करेंगे।मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चार जनवरी को ही पश्चिम चंपारण के लिए रवाना हो जाएंगे और रात्रि विश्राम वाल्मीकि नगर में करेंगे लेकिन उनकी यात्रा की शुरुआत पांच जनवरी से होगी जब पश्चिम चंपारण से समाधान यात्रा की शुरुआत करेंगे इसके बाद रात्रि विश्राम सीतामढ़ी में करेंगे।छह जनवरी को नीतीश कुमार शिवहर और सीतामढ़ी में समाधान यात्रा करेंगे और वापस पटना लौट आयेंगे. सात जनवरी को वैशाली में यात्रा होगी और वापस पटना लौट आयेंगे. आठ जनवरी को सीवान, नौ जनवरी को सारण में यात्रा करेंगे और वापस पटना लौट आयेंगे. इसके बाद नीतीश कुमार 11 जनवरी को मधुबनी में यात्रा करेंगे फिर 12 जनवरी को दरभंगा से यात्रा कर पटना लौट आयेंगे. नीतीश कुमार 12 जनवरी के बाद सीधे 17 जनवरी यानी मकर संक्रांति के बाद फिर से यात्रा पर निकलेंगे और सुपौल की यात्रा करेंगे।

Advertisement

Related posts

मणिपुर में बिहारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए नीतीश सरकार बधाई की पात्र,केंद्र अपना फर्ज निभाए:इरशाद अली आजाद

Nationalist Bharat Bureau

Bihar:अब जहानाबाद में गायब हुए तीन पुल

ज़ी न्यूज़ के खिलाफ कार्रवाई के लिए न्यूज़ ब्रॉडकास्टिंग स्टैंडर्स अथॉरिटी पहुंचा कांग्रेस का अल्पसंख्यक विभाग

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment