Nationalist Bharat
खेल समाचार

भारोत्तोलन खेल में बिहार के रजनीश भास्कर प्रथम अंतर्राष्ट्रीय श्रेणी 1 रेफरी बने

पटना : तमिलनाडु के कन्याकुमारी जिले स्थित पोंजेसलि कॉलेज आफ इंजीनियरिंग, नागरकोईल में बीते वर्ष 29 दिसम्बर से इस वर्ष 7 जनवरी तक आयोजित यूथ, जूनियर एवं सीनियर राष्ट्रीय भारोत्तोलन प्रतियोगिता 2022-23 के दौरान भारतीय भारोत्तोलन संघ के द्वारा अंतरराष्ट्रीय श्रेणी 1 अंतरराष्ट्रीय श्रेणी-2, राष्ट्रीय श्रेणी-1 एवं राष्ट्रीय श्रेणी-2 रेफरी परीक्षा का आयोजन 30 दिसंबर को किया गया था । 31 दिसंबर को प्रैक्टिकल परीक्षा भी आयोजित की गई थी। जिसका परिणाम 1 जनवरी को घोषित किया गया ।अंतरराष्ट्रीय श्रेणी-1 रेफरी परीक्षा में बिहार से एकमात्र अंतर्राष्ट्रीय श्रेणी-2 रेफरी रजनीश भास्कर ने भाग लिया और 99% नम्बर लिखित एवं प्रैक्टिकल एग्जामिनेशन दोनों में प्राप्त कर बिहार से भारोत्तोलन खेल के क्षेत्र में पहला अंतर्राष्ट्रीय श्रेणी-1 रेफरी बनने का गौरव प्राप्त किया है । रजनीश भास्कर एक अंतरराष्ट्रीय रेफरी होने के साथ-साथ, बेगूसराय जिला भारोत्तोलन संघ के वर्तमान में अध्यक्ष, बिहार भारोत्तोलन संघ के उपाध्यक्ष एवं भारतीय भारोत्तोलन संघ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य भी हैं ।

 

Advertisement

बताते चलें कि वेटलिफ्टिंग खेल के क्षेत्र में चार प्रकार के रेफरी होते हैं, राष्ट्रीय कैटेगरी-2 रेफरी, राष्ट्रीय कैटेगरी-1 रेफरी, अंतरराष्ट्रीय कैटेगरी-2 रेफरी, अंतरराष्ट्रीय कैटेगरी-1 रेफरी। रजनीश भास्कर ने 2011 में राष्ट्रीय कैटेगरी-2 की परीक्षा पास की, 2015 में राष्ट्रीय कैटेगरी-1 की परीक्षा पास की, 2019 में अंतरराष्ट्रीय कैटेगरी-2 की परीक्षा पास की और अब साल 2023 में अंतरराष्ट्रीय कैटेगरी-1 रेफरी की परीक्षा पास की और इसके साथ ही भास्कर अब भारत देश का प्रतिनिधित्व रेफरी/ तकनीकी पदाधिकारी के रूप में अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के साथ-साथ वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप एवं ओलंपिक जैसे खेलों में भी कर पाएंगे ।

 

Advertisement

रजनीश भास्कर ने अपनी इस उपलब्धि के लिए सारा क्रेडिट भारोत्तोलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सहदेव यादव, द्रोणाचार्य अवॉर्डी पाल सिंह संधू, द्रोणाचार्य अवॉर्ड प्राप्त महिला हनसा मनराल, वही एस सुब्रमण्यम, एन पी एस चौहान को देते हुए कहा कि यह उनके गुरु हैं जिनके ज्ञान,आशीर्वाद, सहयोग की वजह से आज वह यह मुकाम हासिल कर पाए हैंl उन्होंने बिहार भारोत्तोलन के वर्तमान अध्यक्ष अरुण कुमार केसरी के प्रति भी आभार व्यक्त किया जिनका सहयोग हमेशा वेटलिफ्टिंग के क्षेत्र में आगे बढ़ने वाले सभी बिहार के रेफरी एवं खिलाड़ियों को मिलता रहा है । अब वे राष्ट्रीय एवं अन्य भारोत्तोलन चैंपियनशिप में एक दो नहीं बल्कि 6-7 मेडल प्राप्त कर रहे हैं ।

Advertisement

Related posts

13 जनवरी से हो रहा है हॉकी 2023 वर्ल्डकप, जानिये क्यां है तैयारीयां

cradmin

टीम इंडिया की जीत के पीछे हैं बड़ी वजहें, जानिए हैदराबाद वनडे में कैसे हारी न्यूजीलैंड 

cradmin

अर्जेंटीना बना फुटबॉल का नया बादशाह

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment