Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

एमआईएम विधायकों के राजद में विलय को विधानसभा अध्यक्ष की मंजूरी

पटना: बुधवार 29 जून 2022 को ऑल इंडिया इत्तेहादुल मुस्लिमीन अर्थात ए आई एम आई एम के बिहार के चार विधायकों के पार्टी छोड़कर राष्ट्रीय जनता दल में शामिल होने को बिहार विधानसभा के अध्यक्ष के द्वारा मंजूरी दे दी गई है । इस आशय का पत्र सभी विधायकों और संबंधित अधिकारियों के नाम जारी कर दिया गया है । इस तरह असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी के बिहार के चारों विधायकों का राष्ट्रीय जनता दल में विधिवत मिले हो गया है । अध्यक्ष बिहार विधान सभा के आदेश से एवम पवन कुमार पाण्डेय प्रभारी सचिव,बिहार विधान सभा के हस्ताक्षर से सदस्यगण / मुख्य सचिव, बिहार सरकार, पटना / प्रधान सचिव, संसदीय कार्य विभाग, बिहार सरकार पटना / सभी विभागाध्यक्ष, बिहार सरकार, पटना / कार्यकारी सचिव बिहार विधान परिषद, पटना / राज्यपाल के प्रधान सचिव, राज्यपाल सचिवालय, बिहार, पटना एवं महाधिवक्ता, उच्च न्यायालय, पटना को सूचनार्थ एवं आवश्यक कार्रवाई हेतु प्रेषित पत्र में कहा गया है कि बिहार विधान सभा में ऑल इंडिया मजलिस ए इतेहादुल मुस्लिमीन विधायक दल के चार माननीय सदस्य शाहनवाज, स०वि०स० निर्वाचन क्षेत्र संख्या 50, जोकीहाट,मोहम्मद अनजार नईमी, स०वि०स० निर्वाचन क्षेत्र संख्या 52, बहादुरगंज, मुहम्मद इजहार असफ़ी, स०वि०स०. निर्वाचन क्षेत्र संख्या 55 कोचाधामन एवं सैयद रुकनुद्दीन अहमद, स०वि०स०, निर्वाचन क्षेत्र संख्या 57 बायसी ने दिनांक 29.06.2022 को राष्ट्रीय जनता दल विधायक दल में विलय करने का निर्णय लिया है एवं तत्संबंधी सूचना बिहार विधान सभा सचिवालय को दी है। उक्त चारों माननीय सदस्य ने स्वयं अध्यक्ष, बिहार विधान सभा के समक्ष उपस्थित होकर इस निर्णय के आलोक में राष्ट्रीय जनता दल विधायक दल के सदस्य के रूप में मान्यता प्रदान करने का अनुरोध किया है। इस संबंध में नेता, राष्ट्रीय जनता दल विधायक दल श्री तेजस्वी प्रसाद यादव, श्री जगदानंद सिंह, प्रदेश अध्यक्ष, राष्ट्रीय जनता दल एवं श्री ललित कुमार यादव, मुख्य सचेतक, मुख्य विरोधी दल, बिहार विधान सभा ने भी विलय हेतु अपनी सहमति की सूचना दी है।अतः भारत के संविधान की दसवीं अनुसूची के प्रावधानों के अनुरूप माननीय अध्यक्ष, बिहार विधान सभा ने ऑल इंडिया मजलिस ए इतेहादुल मुस्लिमीन विधायक दल के चार माननीय सदस्य श्री शाहनवाज, स०वि०स० श्री मोहम्मद अनजार नईमी, स०वि०स० श्री मुहम्मद इज़हार असफ़ी, स०वि०स० एवं श्री सैयद रुकनुद्दीन अहमद, स०वि०स० को राष्ट्रीय जनता दल विधायक दल में विलय की मान्यता प्रदान की है। तदनुसार उक्त चारों माननीय सदस्य दिनांक 30.06.2022 के प्रभाव से राष्ट्रीय जनता दल विधायक दल के सदस्य के रूप में अधिसूचित किए जाते हैं।

 

Advertisement

दूसरी तरफ पार्टी विधायकों के टूटने और राजद में जाने पर प्रदेश अध्यक्ष MIM एवम विधायक अख्तरुल ईमान ने कहा कि एमआईएम के एमएलए का आरजेडी में शामिल होना कोई आम घटना नही है। एमआईएम ने RJD की सरकार को भी देखा था और सीमांचल के साथ उनका सौतेला रिश्ता भी। आवाम समझ चुकी थी के सरकार से दबाओ की राजनीति , अपने हक की आवाज बुलंद करने की राजनीति से ही इस इलाके की तकदीर बदल सकती है। विधान सभा में इन डेढ़ सालों में सीमांचल का जितना मुद्दा उठा था तारीख में ऐसा कभी नहीं हुआ था।उन्होंने कहा कि एमआईएम ने बिहार की सियासत में अल्पसंख्यकों को एक विकल्प दिया था। अख्तरुल ईमान का कहना है कि हम सत्ता की सियासत नहीं करते हैं बल्कि हमारा मकसद सीमांचल का विकास है। हमारे विधायकों का आरजेडी में जाना अफसोसनाक हैं। उन्होंने आवाम के साथ विश्वासघात है।

 

Advertisement

उधर राजद ने स्वागत करते हुए कहा कि 17वीं बिहार विधानसभा में AIMIM के चार माननीय सदस्यों श्री शाहनवाज, मो. अनजार नईमी, श्री मुहम्मद इजहार असफी एवं श्री सैयद रूकनुद्दीन अहमद ने राजद की विचारधारा, सिद्धांतों और आदरणीय श्री लालू प्रसाद जी की जनसरोकारी न्यायप्रिय नीतियों से प्रभावित होकर AIMIM के विधायक दल को बिहार विधानसभा में राष्ट्रीय जनता दल में विलय करने का निर्णय लिया है।राजद के नीति, नीयत, नियम, नेता, सिद्धांत और विचारधारा से प्रभावित होकर बड़ी लड़ाई लड़ने के लिए AIMIM छोड़ राजद में आए चार माननीय विधायकों का आज पार्टी कार्यालय में जोरदार स्वागत किया गया।हम जल्दी ही सीमांचल का दौरा करेंगे। हम सीमांचल के चहुंमुखी विकास के प्रति कटिबद्ध है।

Advertisement

Related posts

आजतक की पत्रकार स्वेता सिंह के भारतीय परिधान ग्रहण करने पर गोरवान्वित हुए गिरिराज सिंह,कही ये बात…

पूर्व सांसद आनंद मोहन की अगुवाई में जारी उपवास माँगे पूरी होने के पश्चात समाप्त

लालू के हनुमान की डायरी से सीबीआई को कई राज़ खुलने की उम्मीद

Leave a Comment