Nationalist Bharat
टेक्नोलॉजी

भारतीय रेल में नौकरी का मौक़ा,150 पदों पर होगी भर्ती

नई दिल्ली:भारतीय रेलवे एक विशेष संस्थान सेंटर फॉर रेलवे इनफॉरमेशन सिस्टम में रोजगार पाने का का शानदार मौका आया है। सेंटर फॉर रेलवे इनफॉरमेशन सिस्टम में 150 पदों के लिए योग्य उम्मीदवारों से एप्लीकेशन मांगे गए हैं। सी आर आई एस के द्वारा जारी नोटिफिकेशन के अनुसार यह पद भरे जाएंगे। नौकरी का नोटिफिकेशन सेंटर फॉर रेलवे इनफॉरमेशन सिस्टम की आधिकारिक वेबसाइट cris.org.in के कैरियर सेक्शन में मौजूद है।
सेंटर फॉर रेलवे इनफॉरमेशन सिस्टम मैं इन पदों के लिए असिस्टेंट असिस्टेंट सॉफ्टवेयर इंजीनियर के 144 पद और असिस्टेंट डाटा एनालिस्ट के 6 पद शामिल हैं। इन पदों पर उम्मीदवारों का चयन गेट परीक्षा में मिले नंबर की बुनियाद पर किया जाएगा।
प्राप्त सूचना के अनुसार इस भर्ती के लिए विस्तृत जानकारी और नियम 25 अप्रैल को एक नोटिफिकेशन के तौर पर जारी किया जाएगा।जिसमें शैक्षणिक योग्यता उम्र की सीमा सिलेक्शन का तरीका और तनख्वाह के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी। आवेदन भरने की प्रक्रिया आगामी 25 अप्रैल से शुरू होगी जो अगले महीने अर्थात 24 मई 2022 को समाप्त होगी।
अगर बात इन पदों पर होने वाली भर्तियों के उम्मीदवारों को मिलने वाली सैलरी यानी वेतन की की जाए तो असिस्टेंट सॉफ्टवेयर इंजीनियर और असिस्टेंट डाटा एनालिस्ट को सरकार के सातवें पे कमीशन के मुताबिक सैलरी मिलेगी।

क्या है सी आर आई एस ?

बताते चलें कि सी आर आई एस भारतीय रेल मंत्रालय के अधीन एक अहम संस्थान है जिसमें आईटी प्रोफेशनल और अनुभव रेलवे कर्मचारी मिलकर रेलवे के आईटी सिस्टम को संभालते हैं। रेलवे से जुड़ी तमाम तरह की आईटी से संबंधित टेक्निकल जानकारी देखरेख और संचालन इसी के माध्यम से किया जाता है। यही संस्थान भारतीय रेलवे के लिए जरूरत के अनुसार सॉफ्टवेयर का निर्माण करती है उस सॉफ्टवेयर को संचालित करने में मदद करती है और उसकी तकनीकी खामियों को दूर करके रेलवे और मुसाफिर को तकनीकी सहायता मोहिया कराती है। इस संस्थान का कार्यालय भारत की राजधानी दिल्ली के जनकपुरी इलाके में है।भारतीय रेल मंत्रालय के अधीन काम करने वाला सूचना प्रणाली केंद्र एक स्वायत्त संस्थान है संस्थान भारतीय रेलवे को इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के विकास और रखरखाव के लिए काम करता है। यह संस्थान गैर रेलवे सरकारी और सार्वजनिक क्षेत्र के संगठनों के लिए भी इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी डिवेलप करने का कार्य करती है।

Advertisement

क्या होता है सॉफ्टवेयर इंजीनियर

सॉफ्टवेयर इंजीनियर उसे कहते हैं जो नित्य नई नई टेक्नोलॉजी का आविष्कार करता है और उसको बेहतर से बेहतर बनाकर मार्केट में पेश करता है जिसके सहारे लोगों के काम आसान होते हैं। एक सॉफ्टवेयर का मुख्य काम अपने दिमाग से नया नया सॉफ्टवेयर बनाना होता है उसमें सुधार करना होता है और उसके मेंटेनेंस की जिम्मेदारी भी सॉफ्टवेयर इंजीनियर की ही होती है। वर्तमान समय में भारत समेत पूरे विश्व में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की काफी संख्या में मांग है।

पता
रेलवे सूचना प्रणाली केंद्र
(रेल मंत्रालय, भारत सरकार का उपक्रम)
चाणक्यपुरी, नई दिल्ली- 110021

फोन :24104525, 24106717
फैक्स: 26877893

Advertisement

Related posts

LNMI रोजगार एवं रोजगार सृजन की दिशा में नया कीर्तिमान स्थापित कर रहा है:डॉ० एस० सिद्धार्थ

Nationalist Bharat Bureau

चंद्रयान-3 के रोवर को मिली रासायनिक वस्तुएं, हाइड्रोजन की तलाश जारी

चाणक्या इंस्टिट्यूट ऑफ पॉलीटेक्निक एंड टेक्नोलॉजी में पालीटेक्निक में नामांकन प्रवेश परीक्षा में 1000 से अधिक छात्र हुए शामिल

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment