Nationalist Bharat
Otherनौकरी का अवसरविविधशिक्षा

सेना में 4 साल की भर्ती का नियम नेताओं और उनके बेटों पर लागू होना चाहिए:आशुतोष कुमार

पटना:केंद्र सरकार की अग्नि वीर योजना का विरोध अब व्यापक रूप लेने लगा है।सेना भर्ती की तैयारी में लगे युवा  सरकार के इस फैसले का भारी विरोध   कर रहे हैं ।युवाओं का कहना है  कि सरकार के इस फैसले से उनकी उम्मीदें धराशायी हो गई है, क्योंकि युवा उत्साह के साथ सेना भर्ती की तैयारी में जुटे थे, ताकि सेना में भर्ती होकर वे लोग देश सेवा कर सके. उनको स्थाई नौकरी भी मिल सके।इस बीच भूमिहार ब्राह्मण सेना के आशुतोष कुमार ने भी हमला बोला है।उन्होंने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में कहा कि सरकार यदि सेना में चार साल के लिए भर्ती वाले नियम को इजराइल मॉडल के रूप में देखती है तो सबसे पहले यह नियम देश के नेताओं और उनके बेटों पर लागू होना चाहिए।सरकार यह कानून बनाए की इस देश में चुनाव वही लड़ सकता है जो भारतीय सेना में कम से कम चार वर्ष सेवा दे चुका हो और हर नेता का बेटा यदि शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ है तो उसे भी सेना में चार वर्ष के लिए सेवा देना अनिवार्य होगा।

इससे पहले भी आशुतोष कुमार ने अपने लंबे चौड़े फेसबुक पोस्ट में सरकार के फैसले पर विरोध किया था और नौजवानों से अपनी लड़ाई लड़ने की अपील की थी।उन्होंने लिखा था कि विगत चार वर्षों से सेना भर्ती की तैयारी में जुटे देश के उन नौजवानों के प्रति मेरी सहानुभूति है जो बस इस इंतजार में हर रोज परिश्रम कर अपना पसीना बहा रहे हैं की शायद इस वर्ष सेना की बहाली निकलेगी और हमारा भारतीय सेना में भर्ती होने का सपना पूरा होगा, लेकिन सरकार है की कान में तेल डाल कर सोई है। इसे देश के उन नौजवानों की कोई चिंता नहीं जिनकी उम्रसीमा भी अब लगभग समाप्ति के कगार पर है। विगत चार वर्षों में एक भी सेना भर्ती नहीं निकालने वाली सरकार अब एक नया शिगूफा लेकर आई है ” चार वर्षों के लिए सेना में नौकरी”…जरा विचार कीजिए जो लड़के पिछले तीन वर्षों तक कठिन परिश्रम कर के NCC का ‘C’ सर्टिफिकेट हासिल किए हैं ताकि वे आसानी से सेना में भर्ती हो सकें और अपने बूढ़े मां-बाप और परिवार की जिम्मेदारी निभा सकें। अब उन्हें कहा जाए की आपको नौकरी मिलेगी लेकिन केवल चार वर्षों के लिए तो बताइए उन नौजवानों पर क्या गुजरेगी।

Advertisement

आशुतोष कुमार ने कहा कि यह निकम्मी और सत्ता लोलुप्त सरकार हमारे देश के नौजवानों के साथ खिलवाड़ कर रही है, इनका भविष्य चौपट कर रही है। देश की वर्तमान सरकार को नौकरी, रोजगार, भ्रष्टाचार, अपराध और जनता की मूलभूत सुविधाओं से कोई सरोकार नहीं है। इसे बस सांप्रदायिक दंगे करवा कर किसी भी सूरत में सत्ता में बने रहना है। देश के नौजवानों शंखनाद करो, जंग छेड़ दो इस निकम्मी सरकार के खिलाफ। कोई आगे आए या ना आए लेकिन हम आपके लिए सड़कों पर उतरेंगे और जरूर उतरेंगे।बेरोजगारी के विरुद्ध व्यापक स्तर पर आंदोलन की तैयारी में लग जाएं।जय हिन्द.. जय हिंद की सेना।

Advertisement

Related posts

सेल्फी के बदले तत्वार्थ

Nationalist Bharat Bureau

मौलवी बाक़ीर पहले ऐसे निर्भीक पत्रकार थे जिन्होंने हथियारों के दम पर नहीं कलम के बल पर आज़ादी की लड़ाई लड़ी और खूब लड़ी

Nationalist Bharat Bureau

अपने करियर की शुरुआत कैसे करें। , जानिए हमारे साथ |

Leave a Comment