Nationalist Bharat
ब्रेकिंग न्यूज़

मुफ्ती सनाऊल होदा क़ासमी या मास्टर मुजाहिद आलम बनाए जा सकते हैं बिहार हज कमेटी के चेयरमैन

पटना:राज्य सरकार ने आज बिहार राज्य हज समिति का गठन कर दिया है इस संबंध में अल्पसंख्यक कल्याण विभाग ने अधिसूचना निर्गत कर दिया है lअधिसूचना के अनुसार चौधरी महबूब अली कैसर, प्रो. गुलाम गौस, डॉ. खालिद अनवर, मेराज आलम उर्फ सुड्डू, तबस्सुम प्रवीन, मौलाना मुफ्ती सनाऊल होदा कासमी, अमजद रजा अमजद, सैयद अफजल अब्बास, अब्दुल हक, मौलाना तारिक इनायत उल्लाह, मौलाना मिन्हाज उद्दीन, मास्टर मुजाहिद आलम, सैयद शाह आमिर शाहिद, मों. इर्शाद उल्लाह समेत चौदह सदस्य समिति पर आधारित ये कमिटी तीन वर्षों के लिए है।सूत्रों के अनुसार कमिटी का चेयरमैन मुफ्ती सनाउल् होदा कासमी या मास्टर मुजाहिद बनाए जा सकते हैं।राज्य हज कमेटी के कार्यकारिणी के गठित होने के साथ ही इसके चेयरमैन को लेकर चर्चा का बाजार गर्म है। सूत्रों के अनुसार हज कमिटी के चेयरमैन के लिए सबसे आगे जो नाम चल रहा है वह है इमारत शरिया के नाजिम मुफ्ती सनाउल होदा क़ासमी और पूर्व विधायक मास्टर मुजाहिद आलम। राजनीतिक गलियारों में इन दोनों नामों पर चर्चा चल रही है अब देखने वाली बात यह होगी के राज्य हज कमिटी की कार्यकारिणी के सदस्यों के द्वारा किसे हज कमिटी बिहार का चेयरमैन चुना जाता है।
दूसरी ओर हज कमिटी के सदस्यों के मनोनयन के बाद बिहार उर्दू अकादमी,मदरसा शिक्षा बोर्ड, उर्दू परामर्श दात्री समिति के गठन की भी सरकार से मांग उठने लगी है।

Advertisement

Related posts

DNA वाले सुधीर चौधरी की ZEE NEWS से विदाई

घर लौटने वाले मजदूरों की ‘रेल यात्रा’ का खर्च उठाएगी कांग्रेस

Bihar:अब जहानाबाद में गायब हुए तीन पुल

Leave a Comment