Nationalist Bharat
राजनीति

गुजरात में बडी जीत के बाद 24 फरवरी को पेश होगा भूपेंद्र पटेल सरकार का बजट, 23 से शुरू होगा सत्र

गुजरात में राज्य सरकार का बजट सत्र 23 फरवरी से शुरू होने जा रहा है। वहीं भूपेंद्र पटेल सरकार 24 को बजट पेश करेगी। इस बार सबकी निगाहें बजट पर टिकी हैं। बडी लीड से जीतने और सरकार बनने के बाद पहला बजट सत्र होगा। इस बार पेश होने वाला यह सबसे संभावित बडा बजट होगा, यानी यह एक ऐतिहासिक बजट हो सकता है। हालांकि बजट सत्र की तैयारी सरकार ने दिसंबर से ही शुरू कर दी थी। बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण के लिए वरिष्ठ मंत्रियों की एक कमिटी बनाई गई है। इस बजट सत्र में राज्यपाल को संबोधित करने के लिए वरिष्ठ मंत्रियों की एक विशेष समिति के गठन की भी तैयारी की गई है।

वित्त मंत्री कनु देसाई दूसरी बार बजट पेश करेंगे
नई सरकार के पहले बजट सत्र के 24 फरवरी से शुरू होने के एक दिन बाद बजट पेश किया जाएगा। जिसमें इस बार बड़े प्रावधान की उम्मीद है, पिछली बार बजट पहली बार वित्त मंत्री कनु देसाई ने पेश किया था।  वो सबसे वरिष्ठ नेता हैं। उनके विभाग द्वारा विधानसभा में जीत के बाद बजट पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है।

Advertisement

बड़ी जीत के बाद यह बजट अहम है
इस बजट को काफी अहम माना जा रहा है। क्योंकि हाल ही में गुजरात विधानसभा चुनाव हुए थे जिसमें सरकार ने कुछ कामों को लेकर वादे किए हैं, इस बजट में बडे प्रावधान किये जा सकते है। सरकार की ओर से बजट की तैयारी भी जोरों पर चल रही है।

बजट शिक्षा, रोजगार और कृषि पर केंद्रित है
2023-24 के बजट में शिक्षा, रोजगार और कृषि को प्राथमिकता दी जाएगी। इसलिए इन विभागों की महत्वपूर्ण बैठकें पहले मंत्रियों की अध्यक्षता हो रही है। हाल ही में कृषि मंत्री ने किसान मोर्चा के साथ बैठक भी की थी। इसके साथ ही राज्य सरकार इस बात का अध्ययन कर रही है कि कौन से नए कानून बनाए जाएं और पुराने कानूनों में क्या बदलाव किए जाएं। पूरे मामले में नई कमेटी बनेगी और नए फैसले भी लिए जा सकते हैं।

Advertisement

सत्र 29 मार्च तक चलेगा
सत्र 29 मार्च तक चलेगा। विधानसभा सत्र 25 दिनों तक चलेगा। इस बार बीजेपी ने 156 सीटों के साथ जीत हांसिल की है, जबकि कांग्रेस को 17 और आप को 5 सीटें मिली हैं, ऐसे में भी सवाल हैं कि क्यां कांग्रेस इस बार विपक्ष के रूप में बैठेगी। क्योंकि नियमानुसार उनकी सीटें प्रतिशत के हिसाब से कम हैं।

Advertisement

Related posts

राजस्थान में बीमा के नाम पर किसानों के साथ मजाक, 50 पैसे, 2 रुपए से लेकर 100 रुपए तक मिला क्लेम

cradmin

फडणवीस खुद को ‘समंदर’ बताते थे गुजरात वालों ने ‘तालाब’ बनने को मजबूर कर दिया,सोशल मीडिया पर ट्रोल हुए देवेंद्र

Nationalist Bharat Bureau

कांग्रेस महिला सेल ने संभाली जाले विधानसभा की चुनावी कमान

Nationalist Bharat Bureau

Leave a Comment